एसआईपी (व्यवस्थित निवेश योजना)क्या है। SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN KYA HAI

Share

what is sip , sip , sip kese start karen, mutual fund sip, share market sip , first time sip , gold etf sip,SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN

बहुत से लोग जानते होंगे कि एसआईपी क्या है बहुत से लोगो ने सुना होगा । पर क्या वाकई मैं आप जानते हैं ?

एसआईपी(व्यवस्थित निवेश योजना) क्या होता है । SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN KYA HOTA HAI

एसआईपी का मतलब होता है सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान जो कि निवेश करने के कई तरीकों मे से एक है । वेसे तो इन्वेस्टमेंट करने के कई तरीके होते हैं पर एसआईपी को ज्यादा सरल और सही माना जाता है जिस से छोटी और बड़ी दोनों धन राशि को सही तरीके से लगया जा सकता है और सही रिटर्न्स प्राप्त किये जा सकते हैं ।
सिप के जरिये आप न केवल अपनी आमदनी में से कुछ हिस्सा बचा कर इन्वेस्ट करते हैं वल्कि उस राशि पर टैक्स मे भी छूट प्राप्त कर सकते हैं । सही मायने में बचत वही होती है जिसको बचा कर आप उससे कुछ और आमदनी कर सकें या उसपर सही रिटर्न्स प्राप्त कर सके।

एसआईपी (व्यवस्थित निवेश योजना) किस तरह से कम करता है ।SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN KIS TARAH SE KAM KRTA HAI

एसआईपी कोई एप्पलीकेशन या सॉफ्टवेयर नही है जो कि खुदवाखुद सब कुछ कर देगा । एसआईपी एक तरह का प्लान होता है जो कि आप आपकी इंवेस्टम के लिए चुनते हैं । जैसे कि आपने आपकी बचत को कहीं लगाना है जिस से आपको अच्छा रिटर्न्स मिले । इस के लिए आप किसी म्यूचल फण्ड को चुनते हैं और उसमें 1000 रुपय हर महीने तय अवधि तक लगाना तय करते हैं तो यह होता है एसआईपी सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान।

एसआईपी का उपयोग किस को करना चाहिए। SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN KA UPYOG KIS KO KARNA CHAHIYE

जो व्यक्ति अपनी बचत पर काम रिस्क लेना चाहता है ।या फिर जिस व्यक्ति को शेयर मार्केट का ज्यादा नॉलेज नही है । उन लोगो को एसआईपी के जरिये ही इन्वेस्ट करना चाहिए ।

एसआईपी(व्यवस्थित निवेश योजना) के फायदे। SIP-SYSTEMATIC INVESTMENT PLAN KE FAYADE

  • काम निवेश मे अच्छा रिटर्न्स लोगो का मानना होता है कि यदि आपको अच्छा रिटर्न्स चाहिए हैं तो आपके पास धन राशि भी ज्यादा होनी चाहिए ।लेकिन यदि आप एसआईपी के जरिये इंवेस्टम मार रहे हैं तो यहाँ पर आप थोड़ी-थोड़ी राशि के साथ भी अच्छा रिटर्न्स पा सकते हैं ।
  • नुकसान काम होने की गुंजाइश यदि आप सिप के जरिये शेयर मार्केट या म्यूचल फण्ड या गोल्ड इटीफ (GOLD ETF) में पैसा लगते हैं तो आपके नुकसान की गुंजाइश काम हो जाती है ।

क्योकि यदि आप एक साथ 50000 रुपय का निवेश करते हैं और अगले महीने वह शेयर या म्युचुअल फण्ड नीचे आजाता है तो नुकसान ज्यादा होगा ।पर यदि आप 50000 रुपय की 10 एसआईपी करते हैं और 5000 रुपय का निवेश हर महीने करते हैं तो यहाँ आपकी नुकशान की गुंजाइश काम होगी ।

  • 500 रुपय से एसआईपी(व्यवस्थित निवेश योजना) शुरू कर सकते हैं
  • सिप के लिए कोई ज्यादा बड़ी राशि की जरूरत नही होती आज कल 500 रुपय से सिप शुरू की जा सकती है और कोई समय सीमा भी नही होती कि कब तक पैसे लगा कर रखना है
  • व्याज ज्यादा मिलता है एसआईपी(व्यवस्थित निवेश योजना) मे व्याज के ऊपर भी व्याज मिलता है या तो आप आपका प्रोफिट निकल सकते हो या फिर प्रोफिट को फिर से उसी में इन्वेस्ट कर सकते हो ।
  • आसानी से एसआईपी(व्यवस्थित निवेश योजना) कोई भी व्यक्ति कर सकता है ।
  • एसआईपी करने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नही होती बस आपको थोड़ा सा कंप्यूटर ज्ञान होना चाहिए ।बैंक अकॉउंट होना चाहिए और आप को पता होना चाहिए कि आप को इन्वेस्ट कहाँ करना है ।
  • यदि आप कोई म्यूचल फण्ड चुनते हैं तो वहाँ पर एसआईपी प्लान चुनने का ऑप्शन आता है और आप वह चुन कर हर महीने अपने अककॉउंट से उस म्यूचल फण्ड में पैसे लगा सकते हैं
  • अककॉउंट से पैसे अपने आप म्यूचल फण्ड के लिए ट्रंसफर हो जायँगे जिस दिन को अपने सिलेक्ट करा है और जितना अमाउंट की एसआईपी-सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान की है ।

Show Comments

No Responses Yet

Leave a Reply