Some important information about Kumbh Mela. कुंभ मेले के बारे में कुछ जरूरी जानकारी ।

Share

Some important information about Kumbh Mela. कुंभ मेले के बारे में कुछ जरूरी

जानकारी ।

Kumbh Mela

  • कुंभ मेला एक विश्व प्रसिद्ध मेला है जो कि प्राचीन काल से चला आ रहा है। पौराणिक कथाओं के अनुसार जब समुद्र मंथन किया गया जिसमें देवता और राक्षस दोनों ने सहयोग किया था । उस मंथन के दौरान अमृत कलश की प्राप्ति हुई थी। अमृत कलश पर अधिकार जमाने को लेकर देवता और असुरों मे भयंकर युद्ध हुआ हुआ । माना जाता है कि इस युद्ध के दौरान अमृत कलश से कुछ बूंदें झलक कर पृथ्वी पर चार स्थानों पर गिरी यह चार स्थान हरिद्वार, प्रयाग ,नासिक, उज्जैन हैं जिसमें प्रयाग गंगा ,यमुना ,सरस्वती के के संगम पर स्थित है तथा हरिद्वार गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है वही उज्जैन शिप्रा नदी और नासिक गोदावरी के किनारे बसा हुआ है।
    इन चारों स्थानों पर एक कुंभ मेले का आयोजन हर 12 वर्ष में एक बार होता है जिसमें प्रयागराज का कुंभ बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि यह तीन नदियों के संगम पर होता है सिर्फ हरिद्वार और प्रयाग राज ही एक ऐसी जगह है जहां जहां अर्ध कुंभ का भी आयोजन होता है
    अर्धकुंभ का अर्थ है दो कुंभ के बीच में एक अर्ध कुंभ कुंभ जो कि हर 6 साल में साल में एक बार आता है प्रत्येक जगह पर 12 सालों में एक बार कुंभ लगता है और कुंभ के बीच में आने वाला कुंभ अर्धकुंभ कहलाता है
    2019 प्रयागराज में जो कुंभ लग रहा है दरअसल वो अर्धकुंभ है।

http://kumbh.gov.in/en

Show Comments

No Responses Yet

Leave a Reply